पद्मा लक्ष्मी बनीं यूएनडीपी की नई सद्भावना राजदूत

संयुक्त राष्ट्र/ भारतीय अमेरिकी टेलिविजन हस्ती और फूड एक्सपर्ट पद्मा लक्ष्मी को संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) की नई ‘गुडविल ऐंबैसडर’ यानि सद्भावना राजदूत नियुक्त किया गया है। वह विश्वभर में असमानता और भेदभाव के खिलाफ एजेंसी की लड़ाई का समर्थन करेंगी। यूएनडीपी ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर लक्ष्मी को नियुक्त किए जाने की घोषणा की।

एमी पुरस्कार के लिए नामित टेलिविजन हस्ती और पुरस्कार विजेता लेखिका पद्मा लक्ष्मी अपनी नई भूमिका में असमानता और भेदभाव के खिलाफ लड़ाई और वंचितों को सशक्त बनाने की ओर ध्यान केंद्रित करते हुए सतत विकास लक्ष्यों के प्रति समर्थन जुटाने का काम करेंगी।

यूएनडीपी प्रशासक अचिम स्टीनर ने ‘गुडविल ऐंबैसडर’ के तौर पर पद्मा लक्ष्मी के नाम की घोषणा की। पद्मा लक्ष्मी ने यूएनडीपी में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हम जब अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मना रहे हैं… तो इस समय हमें यह बात याद रखनी चाहिए कि महिलाओं और लड़कियों को विश्वभर में सर्वाधिक भेदभाव और मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।’

उन्होंने कहा कि यूएनडीपी गुडविल ऐंबैसडर के तौर पर वह इस बात पर लोगों का ध्यान खींचने की कोशिश करेंगी कि असमानता अमीर और गरीब देशों को समान रूप से प्रभावित करती है। पद्मा लक्ष्मी ने कहा, ‘कई देश गरीबी कम करने में कामयाब रहे हैं लेकिन असमानता अधिक हठी प्रतीत होती है।’

उन्होंने कहा, ‘लिंग, आयु, जाति और नस्ल के आधार पर असमानता की जाती है। यह खासकर महिलाओं, अल्पसंख्यकों और उन अन्य लोगों को प्रभावित करती है जिन्हें समाज में अकल्पनीय भेदभाव का सामना करना पड़ता है।’ स्टीनर ने कहा कि पद्मा लक्ष्मी पहले भी भेदभाव के खिलाफ और वंचित तबके के लिए आवाज उठाती रही हैं।

उन्होंने कहा, ‘आवश्यकता है कि उनकी तरह और लोग भी आवाज उठाएं ताकि हम सतत विकास लक्ष्यों के अपने सपने को साकार कर सकें जो कि लोगों और दुनिया में शांति और समृद्धि का साझा खाका हैं।’

ज्ञात हो कि पद्मा लक्ष्मी ने करीब 32 साल बाद इस इस बात का खुलासा किया कि 16 साल की उम्र में उनका रेप हुआ था। उन्होंने 23 साल के चार्मिंग और हैंडसम व्यक्ति के साथ डेटिंग शुरू ही की थी कि डेटिंग के कुछ ही महीने बाद न्यू इयर की शाम उसने उनका रेप किया। जब वह 7 साल की थीं तो उनके सौतेले पिता के किसी रिश्तेदार ने उनके पैरों के बीच उन्हें गलत तरीके से छूआ और उनका हाथ अपनी ओर खींचने की कोशिश की। जब पद्मा लक्ष्मी ने इस बात की शिकायत अपनी मां और सौतेले पिता से की तो उन्होंने उन्हें उनके दादा-दादी के साथ रहने के लिए इंडिया भेज दिया।

पद्मा लक्ष्मी साल 2003 में आई बॉलिवुड की फिल्म ‘बूम’ में कटरीना कैफ और अमिताभ बच्चन के साथ नजर आ चुकी हैं। वे मशहूर लेखक सलमान रुश्दी की तीसरी पत्नी भी रह चुकी हैं।

Follow by Email
Facebook
Google+
http://samacharsansaar.com/%E0%A4%AA%E0%A4%A6%E0%A5%8D%E0%A4%AE%E0%A4%BE-%E0%A4%B2%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%B7%E0%A5%8D%E0%A4%AE%E0%A5%80-%E0%A4%AC%E0%A4%A8%E0%A5%80%E0%A4%82-%E0%A4%AF%E0%A5%82%E0%A4%8F%E0%A4%A8%E0%A4%A1">
Twitter

Comments are closed.