खत्म हो गया ‘हास्य-गैस सिलेंडर’, टूट गई हास्य कवि प्रदीप चौबे के सांसो...

ग्वालियर/ प्रसिद्ध हास्य कवि प्रदीप चौबे का ग्वालियर में गुरुवार की रात को हृदयाघात से निधन हो गया। वह 70 वर्ष के थे। उनके करीबियों से मिली जानकारी के अनुसार, चौबे पिछले कुछ अरसे से कैंसर से पीड़ित थे...

स्वतंत्रता संग्राम में सामूहिक आत्मबलिदान का अनुपम प्रसंग...

इतिहास साक्षी है कि भारत की स्वतंत्रता के लिए भारतवासियों ने गत 1200 वर्षों में तुर्कों, मुगलों, पठानों और अंग्रेजों के विरुद्ध जमकर संघर्ष किया है। एक दिन भी परतंत्रता को स्वीकार न करने वाले भारतीयो...

अष्टावक्र गीता : अध्यात्म विज्ञान का बेजोड़ ग्रन्थ...

अष्टावक्र गीता अध्यात्म विज्ञान का बेजोड़ ग्रन्थ है। ज्ञान कैसे प्राप्त होता है? मुक्ति कैसे होगी? और वैराग्य कैसे प्राप्त होगा? ये तीन शाश्वत प्रश्न हैं जो हर काल में आत्मानुसंधानियो द्वारा पूछे जात...

चिरनिद्रा में लीन हो गए ‘नामवर’ समालोचक...

नई दिल्ली/ हिंदी के मशहूर साहित्यकार और समालोचक डॉक्टर नामवर सिंह अब हमारे बीच नहीं रहे। दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में उन्होंने आखिरी सांस ली। खराब सेहत की वजह से पिछले कुछ सम...

‘समाजवाद और धर्म’ : लेनिन...

वर्तमान समाज पूर्ण रूप से जनसंख्या की एक अत्यंत नगण्य अल्पसंख्यक द्वारा, भूस्वामियों और पूँजीपतियों द्वारा, मज़दूर वर्ग के व्यापक अवाम के शोषण पर आधारित है। यह एक ग़ुलाम समाज है, क्योंकि “स्वतं...

‘समाजवाद क्यों?’ : अल्बर्ट आइंस्टाइन...

क्या किसी ऐसे व्यक्ति के लिए समाजवाद के विषय पर विचार व्यक्त करना उचित है कि जो आर्थिक और सामाजिक मुद्दों का विशेषज्ञ नहीं है? मैं यह मानता हूँ कि अनेक कारणों की वजह से यह (उचित) है। हमें इस प्रश्न प...

पूरा हो गया ‘जिन्दगीनामा’, नहीं रहीं ‘मित्रो मरजानी&...

नई दिल्ली/ हिंदी की सुविख्यात लेखिका एवं निबंधकार कृष्णा सोबती का 93 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। उन्होंने आज सुबह साढ़े आठ बजे दिल्ली के एक निजी अस्पताल में अंतिम सांस ली। वह पिछले दो महीने से अस्प...

कान का कच्चा, खाए गच्चा : संत कबीर...

बात उन दिनों की है जब महान संत कबीर दास ­जी के ब्रह्मज्ञान, दर्शन और सत्संग की की­र्ति पूरे भारत में फैल रही थी । उस समय काशी नरेश के कानों तक भी पूज्य संत की कीर्ति पहुंची । उन्होंने संत कबीर दास जी...

असली पारस: संत नामदेव की पारस लीला...

संत नामदेव की पत्नी का नाम राजाई था और परीसा भागवत की पत्नी का नाम था कमला। कमला और राजाई शादी के पहले सहेलियाँ थीं। दोनों की शादी हुई तो पड़ोस-पड़ोस में ही आ गयीं। राजाई नामदेव जी जैसे महापुरुष की प...

वरिष्ठ साहित्यकार नामवर सिंह को ब्रेन हेमरेज, हालत स्थिर...

हिंदी के प्रख्यात आलोचक नामवर सिंह को सिर और पसली में चोट लगने के बाद एम्स के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। उनके मस्तिष्क में खून का थोड़ा थक्का जम गया है। हालांकि, उनके स्वास्थ्य में सुधार है...